गुलाब

भारत डिस्कवरी प्रस्तुति
यहां जाएं: भ्रमण, खोज
गणराज्य कला पर्यटन दर्शन इतिहास धर्म साहित्य सम्पादकीय सभी विषय ▼
लाल गुलाब
Red Rose

गुलाब एक भारतीय पुष्प है। पूरे भारत में गुलाब के पौधे पाए जाते हैं। गुलाब का वैज्ञानिक नाम रोजा हाइब्रिडा है। देशी गुलाब लाल रंग का होता है। परन्तु कलम करके कई रंगो के गुलाब उगाए जाते हैं। गुलाब एक ऐसा फूल है, जिसके बारे में सब जानते हैं। गुलाब का फूल दिखने में जितना अधिक सुन्दर होता है। उससे कहीं ज़्यादा उसमें औषधीय गुण होते हैं। यह सबसे पुराना सुगन्धित पुष्प है, जो मनुष्य के द्वारा उगाया जाता था। इसके विभिन्न प्रकार के सुन्दर फूल जो कि आर्कषक, आकृति, विभिन्न आकार, मन को लुभाने वाले रंगों और अपने विभिन्न उपयोगिताओं के कारण एक महत्त्वपूर्ण पुष्प माना जाता है।

रंग

गुलाब का फूल लाल, गुलाबी, पीला, नारंगी, नीला, सफ़ेद और काला रंग का होता है।

स्वाद

गुलाब के फूल का स्वाद हल्का तीखा और खुशबूदार होता है।

स्वरूप

गुलाब के पेड़ फुलवाड़ियों में लगाये जाते हैं। इसकी डालों में कांटे लगे होते हैं, यह 2 तरह का होता है। एक मौसमी और एक बारहमासी। मौसमी गुलाब का फूल मार्च-अप्रैल में फूलता है। इसमें सुगंध अधिक होती है। बारह महिने गुलाब का फूल बारहों महिने तक फूलता है।[1]

गुलाब का विवरण

गुलाब की खेती प्राचीन समय से फ्रांस, साइप्रस, ग्रीस, भारत, ईरान, इटली, मोरक्को, अमेरिका और बुल्गारिया में इत्र उत्पादन के लिए होती आ रही है।

विभिन्न प्रकार के गुलाब के फूल

भारत में इसकी बहुत सी प्रजातियां हिमालय की पर्वत श्रृखंलाओं में जंगली रूप में पायी गई है। सुगंधित गुलाब की खेती मुख्यतः अलीगढ़, कन्नौज, गाजीपुर, बलिया और जौनपुर उत्तर प्रदेश में, राजस्थान में हल्दीघाटी, चण्‍डीगढ़ के निकट और तमिलनाडु में लगभग 8000 हेक्टेयर क्षेत्रफल में की जाती है। गुलाब की खेती करने वाले मुख्य क्षेत्र कर्नाटक, महाराष्ट्र, पंजाब, उत्तर प्रदेश, दिल्ली और चण्ड़ीगढ जबकि गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल के कुछ भागो में इसकी खेती की जाती है।

गुलाब का पौधा

गुलाब अपनी उपयोगिताओं के कारण सभी पुष्पों में महत्त्वपूर्ण स्थान रखता है। आमतौर पर गुलाब का पौधा ऊंचाई में 4-6 फुट का होता है। तने में असमान कांटे लगे होते हैं। गुलाब की 5 पत्तियां मिली हुई होती है। बहुत मात्रा में मिलने वाला गुलाब का फूल गुलाबी रंग का होता है। गुलाब का फल अंडाकार होता है। इसका तना कांटेदार, पत्तियां बारी-बारी से घेरे में होती है। पत्तियों के किनारे दांतेदार होती है। फल मांसल बेरी की तरह होता है जिसे 'रोज हिप' कहते हैं। गुलाब का पुष्पवृन्त कोरिम्बोस, पेनीकुलेट या सोलिटरी होता है।

गुलाब के फ़ायदे

गुलाब के अन्य उत्पाद

गुलाब के फूल की माला

वीथिका


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध


टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. गुलाब (हिन्दी) जनकल्याण। अभिगमन तिथि: 23 अगस्त, 2010
  2. गुलाब (हिन्दी) उत्तरा कृषि प्रभा। अभिगमन तिथि: 23 अगस्त, 2010

संबंधित लेख

-

फ़ेसबुक पर भारतकोश (नई शुरुआत)
प्रमुख विषय सूची
फ़ेसबुक पर शेयर करें


गणराज्य कला पर्यटन जीवनी दर्शन संस्कृति प्रांगण ब्लॉग सुझाव दें
इतिहास भाषा साहित्य विज्ञान कोश धर्म भूगोल सम्पादकीय


Book-icon.png संदर्भ ग्रंथ सूची
ऊपर जायें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

अं
क्ष त्र ज्ञ श्र अः



निजी टूल
नामस्थान
संस्करण
क्रियाएं
सुस्वागतम्
संक्षिप्त सूचियाँ
सहायता
सहायक उपकरण